दुर्ग 14 फरवरी 2020। रकबा कटौती मामले में लापरवाही पाए जाने पर आरआई व पटवारी को निलंबित करेंगे। यदि किसी किसान के धान के वास्तविक रकबे में कटौती हो गई हो तो ऐसे किसान के आवेदन के बाद उसका परीक्षण कर वास्तविक रकबे को जोड़ा जाएगा। केबिनेट मंत्री ताम्रध्वज साहू ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए यह बात कही।

मंत्री ताम्रध्वज साहू ने आगे कहा कि सभी किसानों का धान खरीदा जाएगा। जिन किसानों ने टोकन लिए थे, जो धान नहीं बेचने के कारण निरस्त कर दिए गए थे, उन्हें भी पुन: टोकन जारी कर धान खरीदा जा रहा है। धान के बोनस के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि जल्द ही प्रदेश के किसानों को राज्य सरकार बोनस देगी। वहीं पिछले दिनों हुई बारिश के बाद किसानों के फसलों को हुए नुकसान का आंकलन करने सर्वे कराए जाने की भी बात की गई।

बारिश में भीगे धान की गुणवत्ता खराब होने पर उपार्जन केन्द्रों में इसके नहीं लिए जाने के सवाल पर मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि ऐसी शिकायत अभी तक नहीं आई है। अगर ऐसा है तो वे इस बारे में पता कराएंगे।