गरियाबंद। नक्सलियों ने एक बार फिर जिले में दस्तक दी है। यहां नक्सलियों ने अपना कायराना करतूत का परिचय दिया है। आज सुबह अचनाक 20 हथियारबंद नक्सली मैनपुर के नाउमूड़ा तेंदूपत्ता गोदाम आ थमके। सबसे पहले तो नक्सलियों ने गोदाम की रखवाली कर रहे तीन चौकीदारों को बंधन बनाया। फिर गोगाम में आग लगाकर के भाग निकले नक्सली। आगजनी से करीब पौने दो करोड़ का नुकसान हुआ है।

  • नक्सलियों के भाग जाने के बाद चौकीदारों ने इसकी सूचना रेंजर को दी। चौकीदारों ने बताया कि आग लगाने के बाद नक्सली कुल्हाड़ीघाट इलाके की ओर भाग गए।
  • पुलिस भी तत्काल मौके पर पहुंची। जानकारी लगते ही SP एमआर अहिरे पूरे अमले के साथ मौके पर पहुंच गए।
  • मौके पर फायर ब्रिगेड भी बुलाया गया, लेकिन तब तक गोदाम में रखे 15 हजार मानक बोरा तेंदूपत्ता जलकर राख हो चुका था।
  • 1 करोड़ 75 लाख रुपये के नुकसान होने का अनुमान है गोदाम नम्बर 3 में ठेकेदारों के अलावा सरकारी पत्ता भी रखा हुआ था।
  • मैनपुर डिविजन कमेटी इलाके भर के तेंदूपत्ता संग्रहन के एवज में हर साल लेवी के रूप में मोटी रकम की वसूली कर लेता था।
  • इस बार पुलिस ने इसे रोकने विशेष अभियान चलाया था। संग्रहन के दरम्यान ही नक्सलियों के नेटवर्क को भी ध्वस्त कर दिया था।
  • एसपी एमआर अहिरे का भी मानना है कि इस बार वसूली नहीं करने के कारण इस तरह की कायराना करतूत को नक्सलियों ने अंजाम दिया है।
  • मैनपुर डिवीजन के मिलेट्री दलम ने घटना को अंजाम दिया है। पुलिस ने सर्चिंग तेज कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here