रायपुर। राजधानी में एक शादी समारोह के दौरान साहू समाज की महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष ममता साहू की मुलाकात दो राज्यों के गवर्नर से हुई। दरअसल समारोह के बीच ममता साहू ने त्रिपुरा के राज्यपाल रमेश बैस से मुलाकात की। तब राज्यपाल के साथ छत्तीसगढ़ की गवर्नर अनुसुइया उइके मौजूद थी। इस दौरान त्रिपुरा के गवर्नर एवं पूर्व भाजपा सांसद रमेश बैस ने ममता साहू की तारीफ करते हुए छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसुइया उइके से उनका परिचय कराया। और श्री रमेश बैस ने बताया कि ममता साहू साहू समाज की सबसे सशक्त और सक्रिय महिला है। जो लगातार महिलाओं को समाज से जोड़ने का काम कर रही है।

हालांकि इस मुलाकात में ममता साहू और राज्यपाल अनुसुइया उइके के बीच भी काफी लंबी चर्चा हुई।। इस दौरान उन्होंने बताया कि समाज में महिलाओं की भागीदारी काफी ज्यादा है। हमारे समाज की महिलाएं लगातार हर दूसरे व्यक्ति को जोड़ने का काम कर रही है। समाज के अंतिम पंक्ति पर खड़े व्यक्ति को सामने लाने का काम कर रही है। 

ममता साहू ने माननीय राज्यपाल को बताया कि समाज ने उन्हें राष्ट्रीय महिला मोर्चा की जिम्मेदारी दी है। जिसका वे पूरी निष्ठा के साथ निर्वहन भी कर रही है। ममता साहू ने राज्यपाल अनुसुइया उइके को छत्तीसगढ़ में साहू समाज की स्थिति को भी स्पष्ट किया और उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ में सबसे बड़ा अगर कोई संग है तो प्रदेश साहू संग है। जो सभी वर्ग और सभी समाज के हितों को ध्यान में रखकर काम करता है।

उन्होंने राज्यपाल को 7 जनवरी को होने वाले कर्मा जयंती की भी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि हर साल की तरह इस साल भी भव्य हेल्थ कैंप लगाया जा रहा है। जो सभी समाज के लोगों के लिए निशुल्क सभी तरह की बीमारियों का जांच किया जाएगा। यही नहीं ममता साहू ने यह भी बताया कि समाज में महिलाएं किस तरह से आगे बढ़ रही है। और समाज उनकी हर स्तर पर मदद करती हैं। अनुसुइया उइके ने साहू समाज की बातें सुनकर काफी खुशी जाहिर की और उन्होंने कहा कि हमसे जो भी संभव हो सके हम साहू समाज और महिलाओं के लिए मदद करते रहेंगे।