रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य हाथकरघा विकास एवं विपणन सहकारी संघ मर्यादित द्वारा गणवेश निर्माण संबंधी शिकायत की जांच के लिए 4 सदस्यीय जांच कमेटी गठित की गई है। यह कमेटी ग्रामोद्योग मंत्री गुरू रूद्रकुमार के निर्देश पर गठित की गई है। जांच कमेटी इस पूरे मामले की जांच कर 15 दिनों में अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। गणवेश सिलाई के कार्य में गड़बड़ी की शिकायत के मद्देनजर हाथकरघा संघ के प्रबंध संचालक राजेश सिंह राणा ने गणवेश प्रभारी रामकिसुन देवांगन को तत्काल प्रभाव से हटा दिया है।

  • ज्ञातव्य है कि ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रूद्रकुमार को बीते दिनों गणवेश सिलाई संबंधी शिकायत मिली थी। मंत्री गुरु रूद्र कुमार ने मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच कमेटी गठित करने के निर्देश अधिकारियों को दिए थे।
  • प्रबंध संचालक राजेश सिंह राणा ने बताया कि गणवेश निर्माण संबंध में मिली शिकायत के अनुसार महिला स्व-सहायता समूहों द्वारा सिलाई का कार्य स्वयं न कर बंगाल के कारीगरों से गणवेश सिलाई का कार्य कराया जा रहा है।
  • यह शासन की मंशा के अनुरूप नहीं है। यह मामला गंभीर और आपत्तिजनक है। इस मामले की जांच एवं स्थल निरीक्षण के लिए चार सदस्यीय जांच कमेटी नियुक्त की गई है।
  • इस जांच कमेटी में मुख्य लेखाधिकारी समीर मिश्रा, महाप्रबंधक अब्दुल अयाज, प्रभारी बिलासा शो रूम संतोष देवांगन और रेडिमेड कक्ष प्रभारी गोविंद देवांगन शामिल है।
  • प्रबंध संचालक राणा ने बताया कि इस शिकायत के मद्देनजर रामकिसुन देवांगन गणवेश प्रभारी को तत्काल प्रभाव से हटाते हुए उन्हें प्रभारी बिलासा हैण्डलूम एम्पोरियम में कोरबा में पदस्थ किया गया है।
  • जारी आदेश के तहत गोविंद देवांगन प्रभारी कपड़ा गोदाम आमापारा रायपुर को उनके वर्तमान कर्त्तव्य के साथ-साथ आगामी आदेश पर्यन्त तक प्रभारी रेडिमेड कक्ष संघ कार्यालय रायपुर का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है।