Monday, May 25, 2020
Home > Entertainment > सबके दिलों में राज करने वाले मशहूर एक्टर इरफान खान नहीं रहे.. 54 साल की उम्र में कैंसर के चलते तोड़ा दम.. बॉलीवुड में शोक की लहर..

सबके दिलों में राज करने वाले मशहूर एक्टर इरफान खान नहीं रहे.. 54 साल की उम्र में कैंसर के चलते तोड़ा दम.. बॉलीवुड में शोक की लहर..

अपनी अदाकारी से हर किसी के दिल पर राज करने वाले फिल्म अभिनेता इरफान खान का बुधवार को निधन हो गया। मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में इरफान खान ने 54 साल की उम्र में अंतिम सांस ली। इरफान काफी लंबे वक्त से बीमार थे और बीते दिनों ही उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. साल 2018 में ही उन्होंने दुनिया को कैंसर के बारे में जानकारी दी थी, लेकिन दो साल बाद जिंदगी से जारी इस जंग को इरफान हार गए. दिग्गज कलाकार के जाने से बॉलीवुड में शोक का माहौल है।

अस्पताल के बयान के मुताबिक, इरफान खान पेट की समस्या से जूझ रहे थे, उन्हें Colon infection हुआ था। फिल्म डायरेक्टर शूजीत सरकार ने इरफान खान के निधन की जानकारी सबसे पहले दी, उसके बाद अस्पताल की ओर से बयान जारी किया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने इरफान खान के निधन पर ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी।

इरफान खान को कब्रिस्तान में सुपुर्द ए खाक किया जाएगा, जहां पर सिर्फ 20 लोगों के आने की ही अनुमति दी जाएगी. कोरोना वायरस की वजह से देश में लागू लॉकडाउन की वजह से अधिक संख्या में लोगों के एकत्रित होने की मनाही है।

शूजीत सरकार ने ट्वीट कर लिखा- मेरा प्यारा दोस्त इरफान। तुम लड़े और लड़े और लड़े। मुझे तुम पर हमेशा गर्व रहेगा। हम दोबारा मिलेंगे। सुतापा और बाबिल को मेरी संवेदनाएं। तुमने भी लड़ाई लड़ी। सुतापा इस लड़ाई में जो तुम दे सकती थीं तुमने सब दिया। ओम शांति. इरफान खान को सलाम।

बता दें कि कुछ दिन पहले ही इरफान खान की मां का निधन हुआ था, लेकिन खुद की खराब तबीयत और लॉकडाउन के कारण वो उनके अंतिम संस्कार में नहीं जा पाए थे। मां के निधन के कुछ दिन बाद ही इरफान खान को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया था।

पद्म श्री सम्मान से नवाजे जा चुके इरफान खान का जन्म 7 जनवरी, 1967 को हुआ था। राजस्थान के टोंक जिले में मुस्लिम परिवार में पैदा हुए इरफान खान ने अपने टैलेंट के दम पर दुनिया में नाम रोशन किया. करीब 30 साल के करियर में उन्होंने 50 से अधिक फिल्मों में काम किया, ब्रिटिश और अमेरिकी फिल्मों में भी योगदान दिया. इरफान ने 1995 में सुतपा से शादी की थी, जो कि नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में उनके साथ थीं. इरफान के दो बेटे हैं।

इरफान खान के निधन के बाद अमिताभ बच्चन, अक्षय कुमार, परेश रावल समेत बॉलीवुड के दिग्गजों ने श्रद्धांजलि दी। वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत समेत अन्य नेताओं ने भी उन्हें नमन किया।

बॉलीवुड के टैलेंटेड अभिनाताओं में शामिल इरफान खान के यूं अचानक चले जाने से उनके फैंस और बॉलीवुड सेलेब्स सदमे में हैं। दो साल पहले मार्च 2018 में इरफान को न्यूरो इंडोक्राइन ट्यूमर नामक बीमारी का पता चला था।

विदेश में इस बीमारी का इलाज कराकर इरफान खान ठीक हो गए थे। भारत लौटने के बाद इरफान खान ने अंग्रेजी मीडियम में काम किया था। किसे पता था ये फिल्म इरफान की जिंदगी की आखिरी फिल्म साबित होगी. इस फिल्म के प्रमोशन के लिए भी इरफान सामने नहीं आ पाए थे और सिर्फ एक संदेश के जरिए लोगों से इसे देखने की अपील की थी।

टेलिविजन से की थी करियर की शुरुआत

इरफान खान ने अपनी करियर की शुरुआत टेलिविजन से की थी, जिसके बाद वह फिल्मों में आए। हासिल, हैदर, अंग्रेजी मीडियम, हिन्दी मीडियम, पान सिंह तोमर ना जाने कितनी ऐसी फिल्में हैं, जिनमें इरफान खान ने दमदार काम किया. 30 साल के करियर में इरफान ने 50 से अधिक फिल्मों में काम किया था।

साल 1998 में फिल्म सलाम बॉम्बे से करियर शुरू करने वाले इस एक्टर के बारे में किसी ने नहीं सोचा था कि वो हॉलीवुड तक को अपनी एक्टिंग का दीवाना बना देगा। हॉलीवुड में उन्होंने माइटी हार्ट और जुरासिक पार्क जैसी ऐतिहासिक फिल्मों में काम किया।