लखनऊ। खबर उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले से है, जहां गुरुवार (19 नवंबर) देर रात बारातियों से भरी एक बोलेरो खड़े ट्रक में पीछे से जा घुसी। इस भीषण हादसे में बोलेरो में सवार छह बच्चों सहित 14 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं, इस हादसे पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुख जाहिर किया है। सीएम ने वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वह घटनास्थल पर पहुंचे और पीड़ितों को हर संभव मदद मुहैया कराएं। इतना ही नहीं, सीएम योगी आदित्यनाथ ने मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए की आर्थिक मदद देने का ऐलन किया है।

जानकारी के मुताबिक, यह हादसा मानिकपुर थाना क्षेत्र में हुआ है। देशराज का इनारा के पास तेज रफ्तार बोलेरो सड़क पर खड़े ट्रक में पीछे से घुस गई। इसके बाद चीख पुकार मच गई। हादसा इतना भयावह था कि मौके पर पहुंचे लोगों के पास जाने की भी हिम्मत नहीं हुई। उधर, से गुजरे लोगों ने पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद बोलेरो से शवों को बाहर निकाला और कुंडा सीएचसी पहुंचाया।

रेस्क्यू ऑपरेशन में लगा दो घंटे का समय

उधर, हादसे की सूचना गांव में पहुंची तो कोहराम मच गया। तो वहीं, शादी समारोह में भी मातम छा गया। वहीं, हादसा इतना भयानक था कि इस रेस्क्यू ऑपरेशन पूरा करने में पुलिस टीम को तकरीबन दो घंटे का समय लग गया। पुलिस ने सभी शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। जानकारी के मुताबिक हादसे में शिकार 12 बाराती कुंडा कोतवाली के जिगरापुर चौसा गांव के रहने वाले हैं, जबकि बोलेरो चालक समेत दो लोग कुंडा इलाके के अन्य गांव के रहने वाले बताए जा रहे है।

हादसे में इनकी गई जान

हादसे में जान गंवाने वालों में चालक बबलू (22), दिनेश कुमार (40), पवन कुमार (10), दयाराम (40), अमन (7), राम समुझ (40), अंश (9), गौरव कुमार (10), भैया (55), सचिन (12), हिमांशु (12), मिथिलेश (17), अभिमन्यू (28) और पारसनाथ (40) शामिल हैं।