Tuesday, June 2, 2020
Home > Education > सरकार का फैसला 5 नवबंर तक बंद रहेंगे स्कूल.. CM ने बच्चों से कहा- ‘कैप्टन अंकल, खट्टर अंकल’ को लिखें लेटर..

सरकार का फैसला 5 नवबंर तक बंद रहेंगे स्कूल.. CM ने बच्चों से कहा- ‘कैप्टन अंकल, खट्टर अंकल’ को लिखें लेटर..

नई दिल्ली 1 नवबंर, 2019। दिल्ली सरकार ने वायु गुणवत्ता के गिरते स्तर के मद्देनजर पांच नवम्बर तक स्कूलों को बंद रखने का निर्णय लिया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, दिल्ली में पराली के जलने से प्रदूषण का स्तर बहुत ज़्यादा बढ़ गया है। इसलिए सरकार ने निर्णय लिया है कि दिल्ली के सभी स्कूल पांच नवम्बर तक बंद रहेंगे।

  • उच्चतम न्यायालय द्वारा गठित पैनल ने शुक्रवार को दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में जन स्वास्थ्य आपातकाल की घोषणा करते हुए पांच नवम्बर तक सभी निर्माण कार्यों पर प्रतिबंध लगा दिया।
  • पर्यावरण प्रदूषण (रोकथाम व नियंत्रण) प्राधिकरण (ईपीसीए) ने प्रदूषण के ‘बेहद गंभीर’ श्रेणी में पहुंचने पर पूरी ठंड के दौरान पटाखे फोड़ने पर भी प्रतिबंध लगा दिया है।

एसडीएमसी का 581 स्कूलों को बंद करने का आदेश

  • दक्षिण दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) के शिक्षा विभाग ने ‘वर्तमान में वायु की गुणवत्ता खराब रहने’ के चलते नगर निगम के अधीन आने वाले 581 स्कूलों को सोमवार को बंद करने का आदेश दिया है।
  • पर्यावरण प्रदूषण (रोकथाम और नियंत्रण) प्राधिकरण ने दिल्ली एनसीआर में प्रदूषण स्तर शुक्रवार को ‘‘गंभीर श्रेणी’’ में पहुंच जाने के मद्देनजर क्षेत्र में जन स्वास्थ्य आपात स्थिति घोषित की थी।
  • निकाय की ओर से शुक्रवार को जारी आदेश में कहा गया, दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में वायु की खराब गुणवत्ता के चलते सक्षम प्राधिकरण ने एसडीएमसी द्वारा संचालित/सहायता प्राप्त या मान्यता प्राप्त सभी स्कूलों को सोमवार यानि चार नवम्बर को बंद करने का आदेश दिया है।

केजरीवाल ने कहा, वायु प्रदूषण के लिए ‘कैप्टन अंकल, खट्टर अंकल’ को लिखें पत्र

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को शहर के स्कूली बच्चों से कहा कि पंजाब और हरियाणा में जल रही पराली के कारण यहां वायु प्रदूषण फैल रहा है और इसके लिए वे दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिख कर इसे नियंत्रित करने की अपील करें।

केजरीवाल ने प्रदूषण से स्कूली बच्चों को बचाने की सरकार की पहल के तहत विद्यार्थियों को मास्क बांटे और उन्हें पराली जलाए जाने के बारे में भी बताया। दिल्ली सरकार ने निजी और सरकारी स्कूलों के बच्चों को बांटने के लिए 50 लाख ‘एन95’ मास्क खरीदे हैं।

उन्होंने कहा कि पंजाब और हरियाणा में जल रही पराली के कारण दिल्ली में प्रदूषण हो रहा है। उन्होंने बच्चों से कहा, ‘‘ कृपया कैप्टन अंकल और खट्टर अंकल को पत्र लिखें और कहें ‘कृपया हमारी सेहत का ध्यान रखे’।

उन्होंने खुद भी हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से बच्चों की सेहत के बारे में सोचने और पराली जलाने से रोकने के लिए कदम उठाने की अपील भी की। मुख्यमंत्री ने बच्चों से राष्ट्रीय राजधानी में कूड़ा जलाने से रोकने में मदद करने की अपील भी की।

उन्होंने कहा, हमें दिल्ली में कूड़ा जलने से रोकना होगा। अगर आप किसी को ऐसा करते देखें, तो उनसे ऐसा ना करने की अपील करें। अगर वे ना मानें तो फिर उनकी शिकायत करने के लिए एक व्हाट्सएप नंबर है।