रिसाली/भिलाई/दुर्ग। प्रादेशिक लोकसंपर्क कार्यालय, रायपुर, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा रिसाली शाससकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर लगाई गई मल्टीमीडिया चित्र प्रदर्शनी ‘स्वच्छता ही सेवा है’ व ‘नो सिंगल यूज प्लास्टिक’ का उद्घाटन दुर्ग के जिलाधिकारी अंकित आनंद के हाथों हुआ। इस अवसर पर भिलाई स्टील प्लांट के कार्यापालक निदेशक एस.के. दुबे बतौर विशिष्ट अतिथि उपस्थित रहे। प्रदर्शनी का उद्घाटन दीप प्रज्वलित कर हुआ। इसके बाद जिलाधिकारी अंकित आनंद ने प्रदर्शनी का अवलोकन किया। प्रादेशिक लोकसंपर्क कार्यालय के प्रमुख शैलेष फाये ने पुष्प गुच्छ देकर उनका स्वागत किया व प्रदर्शनी से संबंधित बीज वक्तव्य दिया। इसके बाद जिलाधिकारी का संबोधन हुआ। उन्होंने प्रादेशिक लोकसंपर्क कार्यालय द्वारा लगाई गई चित्र प्रदर्शनी की सराहना करते हुए कहा कि इसके माध्यम से उन्हें राष्ट्रपिता के संबंध में कई नई जानकारी मिली। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी द्वारा दिखाए राह पर चलकर धरा को स्वच्छ बनाया जा सकता है।

मौके पर मौजूद विद्यार्थियों को उन्होंने प्रदर्शनी से सीख लेने की अपील की। डीएम ने कहा कि प्रदर्शनी के बारीक अवलोकन से व्यक्तित्व में बदलाव लाया जा सकता है। कई चित्र बेहद दुर्लभ, रोचक व ज्ञानवर्द्धक हैं। उन्होंने सिंगल यूज प्लास्टिक के रोकथाम के लिए स्थानीय लोगों से भी सहयोग मांगा। जिलाधिकारी ने भिलाई स्टील प्लांट द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया। इस अवसर पर बीएसपी के जनसंपर्क विभाग के डीजीएम प्रशांत तिवारी ने पौधा देकर उनका स्वागत किया। बीएसपी के कार्यापालक निदेशक (पी एंड ए) एस.के. दुबे व जनसंपर्क विभाग के महाप्रबंधक जैकेब कुरियन ने जिलाधिकारी को प्रदर्शनी के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इसके बाद जिलाधिकारी ने महिला एवं बाल विकास विभाग व नगर पालिका निगम द्वारा लगाए गए स्टाॅल का भी निरीक्षण किया।

रैली निकाल किया जागरूक
स्थानीय लोगों को सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने व स्वच्छता ही सेवा है विषय पर जागरूक करने के लिए स्थानीय स्कूल के विद्यार्थियों द्वारा रैली निकाली गई। रैली को हरी झंडी प्रादेशिक लोकसंपर्क कार्यालय के अपर महानिदेशक सुदर्शन पंतोड़े ने दिखाई। रैली के साथ-साथ सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अधिकारी, कर्मचारी, विद्यालय के प्राचार्य व शिक्षक भी मौजूद रहे।

रंगोली बना बताया बेटियों का महत्व
प्रदर्शनी स्थल पर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, नो सिंगल यूज प्लास्टिक व स्वच्छता ही सेवा विषय पर रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसमें विद्यार्थियों ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। खासतौर से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का थीम को लेकर प्रतिभागियों में खासा उत्साह रहा। रंगोली प्रतियोगिता में कुल 57 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया।

कुर्सी दौड़ में दिखा उत्साह
इस अवसर पर बालक व बालिका वर्ग के लिए अलग-अलग कुर्सी दौड़ प्रतियोगिता आयोजित की गई। कुर्सी दौड़ प्रतियोगिता के लिए विद्यार्थियों में खासा उत्साह दिखा।

59 ने बनाई पेंटिंग
स्वच्छता ही सेवा, नो सिंगल यूज प्लास्टिक विषय पर आयोजित पेंटिंग प्रतियोगिता के लिए भी विद्यार्थियों में खासा उत्साह दिखा। पेंटिंग प्रतियोगिता में 59 लोगों ने हिस्सा लिया व दोनों विषयों पर पेंटिंग बनाई।

प्रदर्शनी में आज
किशोरी बालिकाओं में अस्वच्छता व कुपोषण से रक्त अल्पता को रोकने के उपाय एवं पोषण अभियान पर परिसवांद, खेल स्पर्धाएं, स्वच्छता ही सेवा विषय पर निबंध लेखन व भाषण प्रतियोगिता।