बिलासपुर। आशमा डीलक्स कल्याण समिति फेज-3 ग्राम सकरी बिलासपुर ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम का एक ज्ञापन तहसीलदार को दिया है जिसमें समिति ने आशमा डीलक्स के बिल्डर्स एवं कॉलोनाइजर आसिफ जफानी पर कॉलोनी में वायदे के मुताबिक बिजली सड़क एवं अन्य जरूरी सुविधाएं उपलब्ध नहीं कराने का आरोप लगाते हुए तत्काल सारी सुविधाएं उपलब्ध करवाने का आग्रह मुख्यमंत्री से की है। समिति की एक बैठक में सुविधाएं उपलब्ध नहीं कराने की स्थिति में आंदोलन करने की चेतावनी दी है। समिति के सचिव रामप्यारे कश्यप एवं देवदत्त वर्मा ने बताया कि आसमा डीलक्स के कॉलोनाइजर में 13 साल पहले हर तरह की सुख सुविधा उपलब्ध कराने के नाम पर करीब 200 से अधिक आवास की बिक्री की उसके बाद से बिल्डर्स में कॉलोनी के विकास के लिए कोई ध्यान नहीं दिया यहां तक की यहां के निवासियों को अब तक स्थाई बिजली नहीं मिली है, स्ट्रीट लाइट के लिए पोल गड़ा दिए गए हैं लेकिन खमबों मैं बिजली नहीं लगाई गई है। सड़कें भी खराब हो गई है।

सीवरेज लाइन अधूरा, पीने का पानी की तकलीफ

कालोनी में सीवरेज आधी अधूरी है, गंदे पानी निकलने की वजह से बदबू और गंदगी से लोग परेशान है। कॉलोनी के कई घरों में ओवरहेड टैंक से पानी की सप्लाई बराबर नहीं हो रही है, वह को पीने के पानी की अत्यधिक तकलीफ है। कॉलोनाइजर में मकान बेचने से पहले ढेर सारे
लोक लुभावने वादे किए थे लेकिन इन वादों को वह पूरा नहीं कर रहे हैं बिलासपुर के विधायक शैलेश पांडे से गहरी दोस्ती होने का वे गलत फायदा उठा रहे हैं। सचिव ने बताया कि जून महीने में कॉलोनाइजर फेज 4 निर्माण के लिए लोक लुभावने वादे के साथ एक विज्ञापन जारी किया है सचिव का कहना है कि इसी तरह के वादे उन्होंने फेस 3 के निर्माण के समय किया था लेकिन इन वादों को कॉलोनाइजर ने पूरा नहीं किया। समिति ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि वे कोलोनाइजर को आदेश करें ताकि कॉलोनी को वादे के मुताबिक विकसित किया जा सके। बैठक में समिति के सभी पदाधिकारी एवं सदस्य उपस्थित रहे।