Monday, May 25, 2020
Home > Madhya Pardesh > ब्रेकिंग: यात्री बस और कंटेनर में जोरदार टक्कर.. 8 मजदूरों को मौत.. 50 से अधिक लोग घायल… जिला अस्पताल में मरीजों को जमीन पर लिटाया..

ब्रेकिंग: यात्री बस और कंटेनर में जोरदार टक्कर.. 8 मजदूरों को मौत.. 50 से अधिक लोग घायल… जिला अस्पताल में मरीजों को जमीन पर लिटाया..

गुना 14 मई, 2020। लॉकडाउन के दौरान दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों के साथ हो रही घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। बीती रात गुना में हुए एक बड़े सड़क हादसे में 8 मजदूरों की मौत हो गई जबकि 50 से ज्यादा मजदूर गंभीर रूप से घायल हैं। ये हादसा देर रात गुना के कैंट थाना क्षेत्र में हुआ है। सूचना मिलते ही पुलिस और प्रशासन के अफसर मौके पर पहुंच गए और घायलों को तुरंत ज़िला अस्पताल में भर्ती कराया। मृतकों की फिलहाल पहचान नहीं हो पायी है। बस इतना पता चला है कि सभी उत्तर प्रदेश के रहने वाले थे और महाराष्ट्र से लौट रहे थे।

  • गुना के कैंट थाना इलाके के पास रात करीब ढाई बजे ये हादसा हुआ। यात्री बस और कंटेनर में ज़बरदस्त टक्कर के बाद चीख-पुकार मच गयी।
  • टक्कर इतनी ज़बरदस्त थी कि 8 मजदूरों की वहीं मौके पर मौत हो गयी। इस दुर्घटना में 55 मजदूर घायल हो गए. सभी मजदूर अपने परिवार के साथ कंटेनर में सवार थे।
  • दुर्घटना होते ही कंटेनर का ड्राइवर घटना स्थल से भाग गया। बताया जा रहा है कि सभी श्रमिक महाराष्ट्र से अपने घर उत्तर प्रदेश जा रहे थे। घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

हादसे के बाद जिला अस्पताल में घायलों को जमीन पर लिटाया

गुना में ट्रक और बस की भिडंत होने से जहां 8 मजदूरों की मौत हुई है। वहीं 55 मजदूर घायल हुए है। जिसके बाद घायलों को जिला अस्पताल गुना लाया गया। जहां घायल मजदूरों को बेड भी नसीब नहीं हो पाई और उन्हें जमीन पर ही लिटा दिया गया। अब इसके बाद ये सवाल उठ रहे है कि आखिर शिवराज की सरकार लॉकडाउन में इतनी सुस्त हो गई कि ऐसी कोई इंतजाम भी नहीं कर पाई कि घायल को बिस्तर मुहैया कराया जा सके।

जबकि कुछ दिन पहले ही ऐसी ही रेल हादसे में 15 से ज्यादा मध्यप्रदेश की श्रमिक की मौत हुई है। क्या शिवराज सरकार से इन अनहोनी को देखते हुए राज्य में ऐसी को अनहोनी घटना न हो उससे निपटने के लिए कोई इंतजाम नहीं किये है?

कंटेनर में ठूंस-ठूंस कर भरे थे श्रमिक

  • जो कंटेनर दुर्घटना ग्रस्त हुआ उसमें 60 से ज्यादा मजदूर भरे थे. घर लौटने की मजबूरी में ये लोग इसमें ठूंस-ठूंसकर भरे हुए थे। कंटेनर के अंदर दम घोंटू माहौल था।
  • टक्कर होते ही कंटेनर का ड्राइवर भाग खड़ा हुआ। पुलिस ने फौरन मौके पर पहुंचकर रेस्क्यू अभियान शुरू किया।
  • 7 श्रमिकों की मौके पर ही मौत हो चुकी थी। एक ने अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में दम तोड़ दिया।
  • बाकी घायलों में से कुछ की हालत चिंताजनक बनी हुई है। सभी को गुना ज़िला अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है।