Home > News > Chhattisgarh > ब्रेकिंग: पूर्व मुख्यमंत्री के ओएसडी की फरार पत्नी जविता मंडावी गिरफ्तार… नाबालिग से हुए रेप और अपहरण के मामले में बड़ी कार्रवाई…

ब्रेकिंग: पूर्व मुख्यमंत्री के ओएसडी की फरार पत्नी जविता मंडावी गिरफ्तार… नाबालिग से हुए रेप और अपहरण के मामले में बड़ी कार्रवाई…

राजनांदगांव। जिले से एक बड़ी खबर सामने आ रही है जानकारी के मुताबिक दुष्कर्म पीड़िता नाबालिग के अपहरण मामले में पुलिस ने पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के पूर्व ओएसडी ओपी गुप्ता की फरार पत्नी जवीता मंडावी को गिरफ्तार कर लिया है। जगदलपुर की पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जबिता मंडावी पर पीड़िता के परिवार का कोर्ट में बयान बदलवाने और अपहरण करने में अहम भूमिका निभाने का आरोप है।

ये है पूरा मामला

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के ओएसडी रहे ओपी गुप्ता पर मोहला ब्लॉक की एक किशोरी ने दैहिक शोषण का आरोप लगाया। इसकी शिकायत के बाद पुलिस ने ओपी गुप्ता को गिरफ्तार कर धारा 376 व पाक्सो एक्ट के तहत अपराध दर्ज किया गया है।

  • एफआइआर दर्ज होने के बाद पीड़िता को बालिका संप्रेक्षण गृह में रखा था, जहां सीडब्ल्यूसी में बयान होते ही पीड़िता को परिजनों के सुपुर्द कर दिया।
  • इसके बाद बीते पांच मार्च से पीड़िता समेत उसके माता-पिता व भाई अचानक गांव से गायब हो गए।
  • तीन-चार दिनों बाद भी जब उनकी खोज-खबर नहीं मिली, तब पीड़िता के चाचा ने मोहला थाने में अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई।
  • जिस पर मोहला पुलिस ने धारा 363, 365, 120 बी, 34 भादवि और पाक्सो एकट की धारा 12 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर मामले की विवेचना शुरू की।
  • पतासाजी के दौरान पुलिस ओडिशा नवागढ़ से पीड़ित परिवार को अपहरणकर्ताओं से छुड़ाकर घर ले आई और मामले में चार आरोपित श्रीराम चौधरी, कार चालक शत्रुघन सपहा, राजेश शर्मा व सुमीत शर्मा को गिरफ्तार किया।
    -चारों आरोपितों को जेल भी भेज दिया गया है। पूछताछ में इन्हीं आरोपितों ने मामले में ओपी गुप्ता के भाई शिवरतन गुप्ता के शामिल होने का नाम उजागर किया था।
  • जिसके बाद से पुलिस फरार आरोपित शिवरतन की खोजबीन में लगी थी।
  • इसके अलावा अपहरण के मामले में एक महिला आरोपी के भी शामिल होने की बात सामने आई थी, जो चार आरोपितों की गिरफ्तारी के बाद से फरार हो गई थी।
  • अब मोहला पुलिस ने महिला आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।