21, नवंबर 2020 नई दिल्‍ली। कोरोना वायरस महामारी से बिगड़ी अर्थव्‍यवस्‍था में हो रहे सुधार के बीच मोदी सरकार ने एक बार फिर राहत पैकेज का ऐलान किया है। इसके तहत वित्त मंत्री निर्मल सीमारमण ने 2.65 लाख करोड़ रुपए की 12 घोषणाएं की गईं।

सीतारमण की तरफ से किया गया ऐलान जीडीपी का 15 फीसदी है।आत्मनिर्भर भारत योजना की तीसरी किस्त के तहत सरकार का फोकस रोजगार के नए अवसर को बढ़ावा देने, मैन्युफैक्चरिंग, रीयल्टी, निर्यात को प्रोत्साहन देने के साथ-साथ गरीब, किसान को संबल देने पर है। कोविड-19 वैक्सीन डेलवपमेंट के लिए अलग से फंड का भी ऐलान हुआ।

आत्मनिर्भर भारत योजना की तीसरी किस्त के तहत सरकार का फोकस रोजगार के नए अवसर को बढ़ावा देने, मैन्युफैक्चरिंग, रीयल्टी, निर्यात को प्रोत्साहन देने के साथ-साथ गरीब, किसान को संबल देने पर है। कोविड-19 वैक्सीन डेलवपमेंट के लिए अलग से फंड का भी ऐलान हुआ।

सरकार की तरफ से जो पैकेज का ऐलान किया गया है उसमें नौकरियों पर ज्‍यादा जोर दिया गया है। वित्त मंत्री के पैकेज में रोजगार, इंफ्रास्ट्रक्चर क्षेत्र पर जोर दिया गया है। वित्त मंत्री ने कोविड वैक्सीन पर शोध करने के लिए कोविड सुरक्षा मिशन के तहत 900 करोड़ रुपए देने की घोषणा की है।

इस मौके पर वित्त मंत्री ने कहा कि भारत के मूड के साथ ही मूडीज के रेटिंग में बदलाव हुआ है। इसका मतलब यही है कि भारतीय अर्थव्यवस्था मजबूत हो रही है।