रायपुर । कृषि और सिंचाई मंत्री रविंद्र चौबे और वन तथा आवास पर्यावरण, परिवहन मंत्री मोहम्मद अकबर आज अचानक राजभवन पहुंचे हैं। बताया जा रहा है कि राजभवन और राज्य सरकार के बीच चल रहे हैं मतभेदों को सुलह कराने पहुंचे हैं।

दोनों मंत्रियों ने राज्यपाल से आज सुबह मिलने का टाईम मांगा था। राज्यपाल ने उन्हें साढ़े बारह बजे का समय दिया था। दोनों मंत्री नियत समय पर राजभवन पहुंच गए। मंत्रियों की राज्यपाल अनसुईया उइके के साथ मुलाकात हो रही है। राज्यपाल और राज्य सरकार के बीच चल रहे टकराव के हालात के बीच मंत्रियों की यह मुलाकात अहम मानी जा रही है।

हो सकता है, दोनों मंत्री राज्यपाल की नाराजगी दूर करने का प्रयास करें। राज्यपाल ने कल राजभवन के नए सचिव अमृत खलको को ज्वाईन करने से रोक दिया था।

सरकार ने सोनमणि बोरा को हटाकर खलको को सचिव और केडी कुंजाम को संयुक्त सचिव बनाया था। लेकिन, राज्यपाल इससे सहमत नहीं हैं। उन्होंने सरकार को पत्र लिखकर कहा है कि उन्हेें पूर्णकालिक सचिव चाहिए।

राज्यपाल के इस पत्र का सरकार की ओर से अभी कोई जवाब नहीं आया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज मरवाही रवाना होने से पहले मीडिया से बात करते हुए ये जरूर कहा है कि सभी को संविधान की सीमा में रहकर कार्य करना चाहिए।

उधर, संकेत हैं कि सचिव सोनमणि बोरा आज राजभवन से रिलीव हो जाएं। उन्होंने कल राज्यपाल से आग्रह किया था कि उन्हें कार्यमुक्त कर दिया जाए। आज भी वे राज्यपाल से मुलाकात किए हैं। समझा जाता है कि शाम तक उन्हें राजभवन से रिलीव कर दिया जाए।